1620035851_large

आइए जानते हैं मुलेठी के इस्तेमाल से होने वाले फायदे के बारे में

आइए जानते हैं मुलेठी के इस्तेमाल से होने वाले फायदे के बारे में

Benefits of liquorice: जड़ी बूटी में मुलेठी बहुत ही गुणकारी माना गया है, आमतौर पर लोग इसका इस्तेमाल सर्दी-जुकाम या खांसी में आराम पाने के लिए करते हैं, वहीं मुलेठी का इस्तेमाल गले की खराश में सबसे ज्यादा असरदार होता है, हालांकि मुलेठी के फायदे सिर्फ इतने ही नहीं हैं बल्कि इसका इस्तेमाल आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने में भी किया जाता है, इस रिपोर्ट में हम आपको मुलेठी के फायदे, नुकसान के साथ सेवन के तरीकों के बारे में बताएंगें।

मुलेठी और शहद खाने के फायदे - Mulethi & Honey - Fayde or Nuksan

क्या है मुलेठी-

मुलेठी दिखने में एक झाड़ीनुमा पौधा होता है.... आमतौर पर इस पौधे की तने को छाल सहित सुखाकर उसका उपयोग किया जाता है, मुलेठी के तने में कई औषधीय गुण होते हैं, खाने में इसका स्वाद मीठा होता है, ये दांतों, मसूड़ों और गले के लिए बहुत फायदेमंद है, इसी वजह से इसका इस्तेमाल टूथपेस्ट बनाने में भी किया जाता है।

सिरदर्द में असरदार मुलेठी-

अगर आप अक्सर सिरदर्द से परेशान रहते हैं तो मुलेठी आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती है, मुलेठी चूर्ण या मुलेठी पाउडर के एक भाग में इसका चौथाई भाग कलिहारी चूर्ण और थोड़ा सा सरसों का तेल मिलाएं, और इसे सूंघने से सिरदर्द से आराम मिलता है।

मुलेठी, Mulethi | Liquorice | Health benefits | मुलेठी के फायदे जानकर रह  जायेंगे दंग | Boldsky - YouTube

बाल बढ़ाने में फायदे है मुलेठी-

मुलेठी का उपयोग बालों को सही पोषण देने और बढ़ाने में भी किया जाता है, मुलेठी के क्वाथ से बालों को धोने से बाल तेजी से बढ़ते हैं... इसी तरह मुलेठी और तिल को भैंस के दूध में पीसकर सिर पर लेप लगाने से बालों का झड़ना बंद हो जाता है।

माइग्रेन के दर्द में मिलता है फायदा-

अगर आप माइग्रेन के दर्द से परेशान रहते हैं तो आपको मुलेठी का इस्तामाल करना चाहिए, मुलेठी चूर्ण या मुलेठी पाउडर में शहद मिलाकर इसे नेजल ड्राप की तरह नाक में डालें... इससे माइग्रेन के दर्द से आराम मिलता है।

आंखों के रोगों में भी मुलेठी से मिलता है फायदा-

आंखों में जलन या आंखों से जुड़ा कोई रोग होने पर भी मुलेठी का इस्तेमाल करने से फायदा पहुँचता है... इसके लिए मुलेठी के काढ़े से आंखों को धोएं, और इसके अलावा मुलेठी चूर्ण में बराबर मात्रा में सौंफ का चूर्ण मिलाएं, इस चूर्ण को सुबह शाम खाने से आंखों की जलन कम होती है और आंखों की रोशनी बढ़ती है।

आवाज को बनाएं मीठी, गुणकारी मुलेठी

नाक के रोगों में असरकारक-

अहर आप नाक संबंधी रोगों से परेशान है तो मुलेठी का इस्तेमाल कर सकते है, 3-3 ग्राम मुलेठी और शुण्ठी में छह छोटी इलायची और 25 ग्राम मिश्री मिलाकर इसका काढ़ा बनाएं। इस काढ़े की 1-2 बूँद नाक में डालने से नाक के रोग ठीक होते हैं।

खांसी या सूखी खांसी में फायदेमंद है मुलेठी-

 मुलेठी मुंह में रखकर देर तक चूसते रहने से खांसी से आराम मिलता है, अगर आपको सूखी खांसी है तो एक चम्मच मुलेठी को शहद के साथ मिलाकर दिन में 2-3 बार चाटकर खाएं। इसी तरह मुलेठी का काढ़ा बनाकर 20-25 मिली मात्रा का सुबह और शाम को सेवन करने से मुलेठी का पूरा फायदा मिलता है।

 


Comment As: