death-sentense

अहमदाबाद ब्लास्ट केस में एक साथ 38 लोगों को फांसी की सजा

अहमदाबाद ब्लास्ट केस में एक साथ 38 लोगों को फांसी की सजा

गुजरात के अहमदाबाद में साल 2008 में हुए सीरियल ब्लास्ट केस में स्पेशल कोर्ट ने दोषियों की सजा की घोषणा कर दी है। इसी के साथ कोर्ट ने 49 में से 38 दोषियों को फांसी की सजा सुना दी है। वहीं, 11 दोषियों को उम्र कैद की सजा भी सुना दी गई है।

Rape survivor allowed to abort foetus

पहली बार लिया गया ऐसा फैसला

सीरियल ब्लास्ट केस के गुनाहगारों को UAPA एक्ट के अंतर्गत फांसी की सजा सुना दी गई है। ऐसा भारत के इतिहास में पहली बार हो रहा है जब एक मामले में 38 लोगों को फांसी की सजा सुनाई गई हो।

धमाकों में हुई थी 56 लोगों की मौत

आपको बता दें कि 26 जुलाई 2008 को अहमदाबाद शहर में सीरियल ब्लास्ट हुआ था। एक के बाद एक 21 धमाकों ने पूरे शहर को झंझोर के रख दिया था, जिसमें 56 लोगों की मौत हो गई थी साथ ही साथ 200 लोग जख्मी भी हो गए थे। 08 फरवरी को इस मामले में स्पेशल कोर्ट ने 49 को गुनाहगार और 28 लोगों को निर्दोष ठहराया था।

Every 8th person executed in the world is Pakistani: report - Pakistan -  DAWN.COM

इस मामले में पहला फैसला 2 फरवरी को आने वाला था, लेकिन स्पेशल कोर्ट के जज एआर पाटले को कोरोना हो गया था इस वजह से 8 फरवरी तक के यह मामला टाल दिया गया।

गौर करने वाली बात यह है कि अहमदाबाद में 26 जुलाई 2008 को एक घंटे के अंदर 21 बम धमाके हुए थे इस मामले में अहमदाबाद पुलिस ने 20 FIR दर्ज की थी वहीं, सूरत में भी 15 FIR दर्ज की गईं थी


Comment As: