‘पहले पैसे लेकर आओ फिर लिखवा दूंगा बेटे की मौत की FIR’, गाजियाबाद पुलिस पर लगा आरोप

0Shares

पिछले कई समय से भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरी गाजियाबाद पुलिस का एक और कांड सामने आया है। भोजपुर और लोनी बॉर्डर के बाद अब विजयनगर पुलिस पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा है। यहां पुलिस ने इंसानियत को शर्मसार करते हुए सड़क हादसे में बेटे की मौत की रिपोर्ट लिखाने गए पिता से रिश्वत से मांग की है। वहीं थाने में शिकायत पर सुनवाई न होने के बाद पीड़ित ने एसएसपी से गुहार लगाई, जिसके बाद रिपोर्ट दर्ज हुई। पीड़ित की शिकायत पर एसएसपी ने मामले की जांच का आदेश भी दिया है।

नगर कोतवाली क्षेत्र के बालूपुरा मोहल्ले में रहने वाले राकेश कश्यप का कहना है कि वह मेहनत-मजदूरी कर परिवार की आजीविका चलाते हैं। बीती 28 मई को उनका 25 वर्षीय बेटा उमेश हाईवे स्थित कृष्णा इंटर कालेज के सामने दुर्घटना का शिकार हो गया था। वहां ट्रक की चपेट में आने के बाद उसकी मौत हो गयी थी।

मृतक का पिता का कहना है कि हादसे की सूचना पर बाईपास चौकी पुलिस पहुंची थी। हादेश में बेटे की जान गंवाने के बाद जब पीड़ित ने पुलिस से एफआईआर की गुहार लगा तो उसे झटका लगा। पीड़ित पिता राकेश कश्यप का कहना है कि बाईपास चौकी इंचार्ज राजकुमार ने रिपो्ट दर्ज करने के बजाय कहा कि बेटा तो मर गया है। रिपोर्ट के चक्कर में न पड़ों चुपचाप बाईक और मोबाइल ले जाओ।

इसके बाद एक दिन रात में विजयनगर थाने के एसएसआई अनिल यादव से पीड़ित पिता ने मुलाकात की। उस समय एसएसआई ने कहा पैसे लेकर आ जाओ रिपोर्ट लिखवा दूंगा। पीड़ित का कहना है कि थोड़ी देर बाद एसएचओ सरकारी गाड़ी से आते दिखे तो उन्हें इस बारे में जानकारी दी गयी। जिसके बाद उन्होंने भी एसएसआई की बात को सही ठहराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *