बंगाल में हाई टाइड की आशंका के चलते 20 हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाया गया

0Shares
पश्चिम बंगाल में गुरुवार को तटीय क्षेत्रों में हाई टाइड की आशंका है। इसके साथ ही आंधी व तूफान के साथ भारी बारिश और वज्रपात होने की आशंका है। मौसम विभाग ने इससे संबंधित अलर्ट पहले ही राज्य सरकार को भेज दिया था, जिसकी वजह से प्रशासन ने तटवर्ती क्षेत्रों से लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाना शुरू कर दिया है।
बताया गया है कि मूल रूप से दक्षिण 24 परगना के विस्तृत इलाके में बाढ़ की आशंका को देखते हुए 20 हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। इसके अलावा मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश पर बांध मरम्मत का काम भी तेजी से चल रहा है‌।
इस बीच शुक्रवार को हाई टाइड की वजह से समुद्र का जल रिहायशी क्षेत्रों में प्रवेश कर सकता है। इससे जानमाल के नुकसान की आशंका बनी हुई है। किसी व्यक्ति को अपनी जान गंवानी न पड़े इसे ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने लोगों को सुरक्षित ठिकाने पर पहुंचाना शुरू कर दिया है।
जिलाधिकारी पी उलगानाथन ने गुरुवार को बताया कि जो लोग चक्रवात के बाद स्कूल और अन्य राहत शिविरों में पहुंचाए गए थे, उन्हें उसी जगह रहने को कहा गया है। तटबंधों की मरम्मत की गई है और जिन क्षेत्रों में बाढ़ के पानी के घुसने की संभावना है, वहां से सभी लोगों को सुरक्षित हटाया जा रहा है। जिला प्रशासन राज्य सिंचाई विभाग के साथ मिलकर काम कर रहा है।
उल्लेखनीय है कि गत 26 मई को पश्चिम बंगाल में यास चक्रवात आया था, जिसकी वजह से उत्तर और दक्षिण 24 परगना तथा पूर्व मेदिनीपुर के विस्तृत इलाके में जलजमाव पहले से ही बना हुआ है। पिछले पांच दिन से लगातार बारिश से भी कारण जलस्तर और बढ़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *