c8a432f5fd05195882b5fee2fef2fa85_original

निर्माणधीन सोसायटी की छत गिरने से 1 की मौत, आधा फँसा एक व्यक्ति

निर्माणधीन सोसायटी की छत गिरने से 1 की मौत, आधा फँसा एक व्यक्ति

गुरुग्राम (Gurugram) के द्वारका एक्सप्रेसवे (Dwarka Expressway) स्थित एक निर्माणधीन सोसायटी के एक अपार्टमेंट की छठवीं मंज़िल में गुरुवार (10 फ़रवरी) शाम को निर्माण के दौरान लेंटर गिर गया, जिससे 1 महिला की मौत हो गई है। यह घटना किन्टेल्स पाराडिसो हाउसिंग कॉम्पलेक्स (Chintels Paradiso Housing Complex) के एक अपार्टमेंट की है, जहाँ छठी मंज़िल के अपार्टमेंट के लिविंग रूम का फ़र्श सबसे पहले नीचे गिरा और इसके बाद उसके नीचे की छतें और फ़र्श सीधे नीचे गिर गए। आज (11 फ़रवरी) NDRF और SDRF की टीम मौक़े पर मौजूद है। इस मामले पर गुरुग्राम (Gurugram) के DC निशांत यादव (Nishant Yadav) ने बताया की, “सूचना मिली थी की सेक्टर-109 में एक सोसाइटी में कल (10 फ़रवरी) 6:00 बजे के आस-पास D-Tower में कुछ ब्लॉक हैं, वह नीचे गिर गए हैं और मलबे में कुछ लोग फँसे हुए हैं। सूचना पर प्रशासन की टीम तत्काल मौक़े पर पहुँची और बचाव कार्य में जुट गई। पुलिस ने बिल्डर के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर लिया है और उसकी तलाश जारी है।

गुरूग्राम में बड़ा हादसाः निर्माणाधीन बिल्डिंग की छत गिरने से 2 मजदूरों की  मौत, कईयों के मलबे के नीचे दबने की आशंका - Aapni News

DC निशांत यादव (Nishant Yadav) ने बताया की, “18 फ़्लोर की बिल्डिंग थी, 12 फ़्लोर सेफ़ हैं, जो 6 फ़्लोर हैं, उनमें से एक पार्टिकुलर सेक्शन के बीच में जो डायनिंग एरिया (Dining Area) है, वह 6 फ़्लोर से लेकर के पहले फ़्लोर तक गिर गया है। हर एक फ़्लोर पर बाक़ी सारे रूम सेफ़ हैं। सिर्फ़ वह पार्टिकुलर एरिया लगभग 40-50 स्क्वायर फ़ीट फ़र्स्ट फ़्लोर तक गिर गया है। 3 से लेकर 6 फ़्लोर तक कोई भी वहाँ पर नहीं रह रहा था। फ़र्स्ट और सेकंड फ़्लोर पर ही लोगों के फँसे होने की सूचना मिली थी। कुल 3 लोग उसमें फँसे थे। उनमें से 1 की मौत कंफ़र्म है, डेड बॉडी बाहर निकाली जा चुकी है। मृत महिला सेकंड फ़्लोर पर रहती थी। सेकंड फ़्लोर पर उसके अलावा कोई और नहीं रह रहा था।

Gurugram Building Collapse Gurugram Police is not registering FIR गुरुग्राम  हादसाः सारी रात चला रेस्क्यू, 1 की मौत, कई अभी भी दबे!, पुलिस नहीं दर्ज कर  रही FIR - India Ahead Hindi

अधिकारी ने बताया कि, पहली मंज़िल पर कुल 2 लोग रहते थे, जो फँसे हुए थे। उनमें से 1 महिला के फंसे होने की संभावना है। 1 पुरूष आधे फँसे हुए हैं, उनकी बॉडी का जो लोअर हिस्सा है उस पर मलबा गिरा हुआ है। मलबे को हटाकर उनको बाहर निकालने की कोशिश जारी है। फँसे हुए अरुण श्रीवास्तव (Arun Shirvastava) इंडियन रेलवे इंजीनियरिंग सर्विस (Indian Railway Engineering Service) के ऑफ़िसर हैं। शुरुआती जाँच में पता चला है कि छठे फ़्लोर पर कुछ अंडर कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी (Under Construction Activity) थी। बिल्डर के द्वारा वह एक्टिविटी की जा रही थी। यह एक रीज़न (reason) हो सकता है। जल्द ही घटना के कारणों का पता लगाया जाएगा, इसके लिए अधिकारियों की टीम मामले की जाँच करेगी।”

हरियाणा (Haryana) के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Chief Minister Manohar Lal Khattar) ने ट्वीट कर कहा की, गुरुग्राम (Gurugram) में पैराडाइसो हाउसिंग कॉम्प्लेक्स (Paradiso Housing Complex) में अपार्टमेंट की छत के दुर्भाग्यपूर्ण ढहने के बाद SDRF और NDRF टीमों के साथ प्रशासनिक अधिकारी बचाव और राहत कार्य में व्यस्त हैं मैं व्यक्तिगत रूप से स्थिति की निगरानी कर रहा हू और सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूँ।

इस मामले पर हरियाणा (Haryana) के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Former Chief Minister Bhupinder Singh Hooda) ने ट्वीट कर कहा की, गुड़गा(Gurgaon) के चिन्टल्स पैराडिसो हाउसिंग अपार्टमेंट (Chintels Paradiso Housing Apartment) में छत गिरने से कई लोगों की मृत्यु और कई लोगों के दबे होने का दुर्भाग्यपूर्ण समाचार प्राप्त हुआ मृतकों को श्रद्धांजलि व घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूँ। सरकार से अपील है कि युद्ध स्तर पर राहत व बचाव कार्य कराए


Comment As: